15 august speech in hindi:स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

आरंभ:

नमस्कार दोस्तों और प्रिय विद्यार्थियों!

आज मैं यहां खड़ी हूँ आप सभी के सामने, एक ऐसे दिन के उपलक्ष्य में जो हर भारतीय के लिए अत्यंत गर्व का स्त्रोत है। हम सभी आज यहां एक साथ इसलिए हैं कि आज हम सभी भारतवासियों के दिल में उत्साह और जोश का महापर्व स्वतंत्रता दिवस के उत्सव को मनाने के लिए इकट्ठे हुए हैं।

परिचय:

मैं [अपना नाम] आपका मार्गदर्शक बनकर आपके सामने खड़ी हूँ। यहां पर खड़ी होकर मेरा उद्देश्य है कि मैं आपको आज स्वतंत्रता दिवस पर भाषण द्वारा एक संदेश दूं, जिससे हम भारतीयों के दिल में एकता और राष्ट्रीय भावना को बल मिल सके।

स्वतंत्रता का महत्व:

स्वतंत्रता वह अनमोल वरदान है जिसे हमारे पूर्वजों ने अपने खून और पसीने से प्राप्त किया था। अटल बिहारी वाजपेयी जी ने सही कहा था, “स्वतंत्रता देने वाले विरोधियों को आपके सामने न लाने का अर्थ है कि आप ने स्वतंत्रता पाने के लिए कुछ भी नहीं किया।” हमें समझना चाहिए कि हमारे पूर्वजों ने स्वतंत्रता के लिए कितने बड़े बलिदान दिया था और हमें इस बात का गर्व महसूस करना चाहिए।

आजादी की लड़ाई:

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम एक महान अभियान था जिसमें अनेक वीर सैनिक और स्वतंत्रता सेनानियों ने अपनी जान न्यौछावर कर दी। भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, चंद्रशेखर आजाद, लक्ष्मीबाई और रानी पद्मिनी जैसे अनेकों स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने देश की स्वतंत्रता के लिए संघर्ष किया था। हम उन्हें सदैव नमन करते हैं और उनके बलिदान को समर्थन करते हैं।

भारतीय संस्कृति का गर्व:

भारत एक ऐसा देश है जिसमें विविधता और संस्कृति का भरा हुआ है। हमारी संस्कृति, धरोहर, और परंपराएं हमें गर्व का एहसास कराती हैं। हमें यह याद रखना चाहिए कि स्वतंत्रता दिवस का उत्सव हमें हमारी भारतीय संस्कृति के महत्व को समझाता है और हमें अपनी संस्कृति के प्रति सम्मान और समर्पण की भावना देता है।

शिक्षा की महत्वता:

स्वतंत्रता के बाद, हमारा देश एक महान विकास के मार्ग पर आगे बढ़ रहा है। लेकिन विकास के लिए शिक्षा की महत्वता अधिक महत्वपूर्ण है। हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि हमारे देश का विकास हमारी शिक्षा के स्तर पर निर्भर करता है। हमें शिक्षित बनकर अपने देश के विकास में योगदान देना चाहिए।

समाप्ति:

इस अवसर पर, मैं सभी भारतीयों को एक साथ खड़ा होने और अपने देश को गर्व से मनाने की भावना से प्रेरित करती हूं। हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि हमारे पूर्वजों ने स्वतंत्रता के लिए कितना बड़ा संघर्ष किया था और हमें उनके संघर्ष को समर्थन करना चाहिए।

आइए, हम सभी मिलकर अपने देश के उत्थान में योगदान देने का संकल्प करें और स्वतंत्रता की महिमा को गर्व से मनाएं।

जय हिंद, वन्दे मातरम्!

धन्यवाद!

स्वतंत्रता का महत्व:

  • स्वतंत्रता की परिभाषा
  • स्वतंत्रता का महत्व
  • स्वतंत्रता के लिए संघर्ष करने वाले महानायक

स्वतंत्रता संग्राम की कहानी:

  • भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के उद्देश्य
  • वीर स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान
  • भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, चंद्रशेखर आजाद, लक्ष्मीबाई और रानी पद्मिनी के सम्मानित नाम

भारतीय संस्कृति का गर्व:

  • विविधता और संस्कृति का महत्व
  • भारतीय संस्कृति के धरोहर और परंपराएं

शिक्षा की महत्वता:

  • शिक्षा के महत्व
  • शिक्षा का योगदान विकास में

समाप्ति:

  • भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महानायकों को समर्पित
  • समृद्धि और एकता की भावना
  • धन्यवाद और शुभकामनाएं

Leave a Comment